Click on Any Booklet to Download

Trademark (Logo) Designing के Golden Rules

Trademark (Logo) Designing के Golden Rules

 

"हर Logo की अपनी कहानी होती है, सुनिश्चित करें कि आपकी भी हो"

Logo डिज़ाइन, दोस्तों, ऐसा मामला है जो आपके ब्रांड की पहचान को निखारता है। ये वो चीज़ है जो आपके बिज़नेस की पहली झलक बनती है और उसे अमर बना सकती है। सो, अगर आप चाहते हैं कि आपका Logo भीड़ में अलग दिखे और हमेशा याद रहे, तो यहां कुछ गोल्डन रूल्स हैं जिन्हें आपको फॉलो करना चाहिए।

 

1. Keep It Simple {{Show Sample}}

भाई, सीधी सी बात है, जितना सिंपल Logo होगा, उतना ही याद रखने में आसान होगा। जटिल डिज़ाइन में बहुत सारे फॉन्ट्स, रंग और पैटर्न होते हैं जो आपके कस्टमर्स के लिए कन्फ्यूज़िंग हो सकते हैं। आप Apple का Logo देखो - एक सिंपल कटा हुआ सेब। और ये सेब दर्शाता है कि Apple Technology के बिज़नेस में है। एकदम सिंपल, पर असरदार। इसीलिए, अपने Logo को ऐसा बनाओ जो लोगों के दिमाग में सीधा फिट हो जाए और आपके बिज़नेस का एसेंस पकड़ ले।

 

2. Design in Black & White, Then Add Colors {{Show Sample}}

जब आप Logo डिज़ाइन करते हो, तो सबसे पहले उसे ब्लैक एंड व्हाइट में ट्राई करो। इससे आप डिज़ाइन पर ज्यादा फोकस कर पाओगे, बिना रंगों के दखल के। Black & White में Logo की शुद्धता और ओरिजिनलिटी साफ नजर आती है। उसके बाद जब रंग डालने का वक्त आए, तो ध्यान रखना कि हर रंग का अपना मतलब होता है और वो आपके ब्रांड की पहचान को मजबूत बनाते हैं। जैसे लाल रंग ऊर्जा और जोश को दर्शाता है, वहीं नीला रंग भरोसे और स्थिरता का प्रतीक है।

 

3. Good Choice of Font {{Show Sample}}

Logo डिज़ाइन में सही Font चुनना भी बहुत जरूरी है। Font आपके ब्रांड की पर्सनैलिटी को उभारता है। सोचो, अगर कोई बैंकर कोमेडी फिल्म का पोस्टर फॉन्ट इस्तेमाल कर ले, तो क्या सीरियस लगेगा? नहीं ना! सही Font आपके Logo को सही मूड और मैसेज देने में मदद करता है। एक अच्छा Font आपके ग्राहकों के विचारों और भावनाओं पर सीधा असर डाल सकता है। इसलिए Font का चयन सोच-समझ कर करो।

 

4. Don't Replace a Letter with symbol or Image {{Show Sample}}

Logo के शब्दों में किसी अक्षर को प्रतीक या चित्र से बदलना कई बार अजीब लगता है और पढ़ने का फ्लो खराब कर सकता है। सोचो, अगर कोई अक्षर को चित्र से बदल दे और लोग उसे पढ़ ना पाएं तो क्या फायदा? बीच में या अंत में प्रतीक का इस्तेमाल ठीक है, पर अक्षरों की जगह लेना रिस्की हो सकता है। हां, कुछ ब्रांड्स के लिए ये काम कर सकता है, लेकिन ये बहुत ही सावधानी से करना चाहिए।

 

Bonus Tips

  • Logo की कहानी: आपका Logo सिर्फ एक तस्वीर नहीं, बल्कि एक कहानी है। इसे ऐसा बनाओ कि ये आपके बिज़नेस की कहानी बयां कर सके।

  • भावनाओं से जुड़ाव: Logo ऐसा होना चाहिए जो लोगों के दिलों को छू सके। इसमें वो जज्बात हों जो आपके बिज़नेस के बारे में बताते हों।

  • स्केलेबल डिज़ाइन: Logo ऐसा होना चाहिए जो किसी भी साइज़ में अच्छा लगे, चाहे वो बिलबोर्ड हो या सोशल मीडिया प्रोफाइल।

 

निष्कर्ष

Logo डिज़ाइन एक कला है और इसे मास्टर करने के लिए इन गोल्डन रूल्स का पालन करना जरूरी है। एक सिंपल, यादगार और इमोशनली कनेक्टेड Logo ही आपके ब्रांड की पहचान को मजबूत बना सकता है। तो दोस्तों, अपने Logo को ऐसा बनाओ कि वो भीड़ में अलग दिखे और हमेशा के लिए याद रहे।

याद रखो, "हर Logo की अपनी कहानी होती है, सुनिश्चित करें कि आपकी भी हो।"

Logo डिज़ाइनिंग की इस यात्रा में आपको शुभकामनाएँ!

क्या आप तैयार हैं अपना ब्रांड चमकाने के लिए? 🚀

27 May

Bindu Soni
Bindu Soni

To start a new business is easy, but to make it successful is difficult . So For success, choose the best." Be compliant and proactive from the beginning and choose NEUSOURCE as your guidance partner.

Search Blog

Latest Videos Blog

See All Popular

Facebook Widget

Startup Consulting